सनातन धर्म में ईश्वर क्या है? Hindu dharm aur Ishwar

सनातन धर्म एक प्राचीनतम विचारधारा है जो सृष्टि रचना के वास्तविकता को दर्शाने की कोशिश करता है। सनातन धर्म में ईश्वर क्या है यह एक बहुत ही गहन विषय है। न समझने के कारण समाज में ज्यादातर लोग देवता को जन्मदाता मानते हैं। sanatansaty.com यदि देवी और देवता जन्मदाता होते तो कल्प के अंत में … Continue reading सनातन धर्म में ईश्वर क्या है? Hindu dharm aur Ishwar

भारतीय संस्कृति पर अधिकार किसका? India for whom?

इस संपूर्ण दुनिया के निर्माण में दुनिया के प्रत्येक जीव का अहम रोल है। यह प्रकृति अपना संतुलन बनाए रखने के लिए सभीं से कुछ ना कुछ सहयोग लेती है। भारतीय संस्कृति पर अधिकार किसका!  इस पर आगे बढ़ने से पहले इस दुनिया पर अधिकार किसका !  इस पर यदि चिंतन करें तो भारतीय संस्कृति … Continue reading भारतीय संस्कृति पर अधिकार किसका? India for whom?

तत्वदर्शी दार्शनिक महात्मा। Sudarshan Singh parsurampur Saran.

लेखक अपने विचार को प्रकट करता है और दार्शनिक तत्व को प्रकट करता है। मेरे लिए यह लेख बहुत ही महत्वपूर्ण है। आज जो कुछ भी मैं लिखता हूं, अथवा मेरे द्वारा विचारों में जो उत्तम शब्द है, उनमें बहुत इन्हीं महान संत तुल्य श्रीमान श्री सुदर्शन सिंह जी, निवास स्थान परशुरामपुर सारण का है। … Continue reading तत्वदर्शी दार्शनिक महात्मा। Sudarshan Singh parsurampur Saran.

सनातन धर्म के लिए आवश्यकता। Aaj ke generation mein hindu dharm ki avashyakta.

विशाल होने के बावजूद आपस में कोई आपसी संघ नहीं है, कुछ संघ है ,तो आपस में अनेक मतभेद है। हिंदू अथवा सनातन शब्दों में यह तो कहते हैं ,कि हम सभीं एक हैं, परंतु वास्तव में अनेक बनकर विचरण करते हैं। इसका दुष्परिणाम पूर्व काल से होते रहा है। परदेसी मत वाले हमेशा से … Continue reading सनातन धर्म के लिए आवश्यकता। Aaj ke generation mein hindu dharm ki avashyakta.

ॐ पूर्णमद: पूर्णमिदं। वेद मंत्र का महत्व क्यों। Vedant Darshan

वेदांत दर्शन समुंद्र के जैसा विशाल है।  संस्कृत भारत दर्शन का प्राचीनतम भाषा है। संस्कृत आज समाज का मुख्य भाषा नहीं है, जिसके वजह से वेदों के शब्दों को आज की प्रचलित भाषा में प्रस्तुत किया जाना चाहिए। समाज में सनातन समाज के कल्याण के लिए एवं बच्चों को सनातन संस्कृति से जोड़ने के लिए, … Continue reading ॐ पूर्णमद: पूर्णमिदं। वेद मंत्र का महत्व क्यों। Vedant Darshan

शिक्षण विशेष खास। Devbhoomi Uttarakhand mein education. Dehradun.

भारत में तीर्थ नगर देवभूमि के नाम से प्रसिद्ध है उत्तराखंड। उत्तराखंड प्राचीन काल से ही अपने आप में अतुल्य है। उत्तराखंड की वर्तमान राजधानी देहरादून अपने आप में अतुल्य है। शिक्षण विशेष खास। Devbhoomi Uttarakhand mein education. Dehradun. देहरादून शहर पहाड़ों के बीच में बसा हुआ है। एक तरफ शिवालिक की पहाड़ियां और दूसरी … Continue reading शिक्षण विशेष खास। Devbhoomi Uttarakhand mein education. Dehradun.

लक्ष्मण सिद्ध मंदिर। Dehradun siddh sthal.

सनातन धर्म में तपस्या का महत्व किसी से छुपा नहीं है। महान महात्माओं तथा भक्तों के त्याग में सिद्ध स्थल का निर्माण होता है। https://youtu.be/mLRQWzA2Icg ईश्वर सर्वत्र समान रूप से विराजमान है ,फिर भी तपस्या किसी भूमि को विशेष सिद्ध स्थल में निर्माण कर देता है। लक्ष्मण सिद्ध मंदिर। Dehradun siddh sthal. पावन देवभूमि उत्तराखंड … Continue reading लक्ष्मण सिद्ध मंदिर। Dehradun siddh sthal.

मनोकामना पूर्ति चौपाई मंत्र। श्री रामचरित्रमानस। Icchapurti chaupai

श्री रामचरित्रमानस सनातन साहित्य में क्या महत्व रखता है, इससे सभीं परिचित हैं। श्री रामचंद्र स्वयं ही ब्रह्मांड को बनाने वाले कहे जाते हैं। ईश्वर की महिमा अपरंपार है। कहते हैं ईश्वर ने मनुष्य की रचना कर अपनी समस्त शक्तियों को मनुष्य के अंदर डाल दिया। मनुष्य है ,जो सभीं शक्तियों के होने के बाद … Continue reading मनोकामना पूर्ति चौपाई मंत्र। श्री रामचरित्रमानस। Icchapurti chaupai

मृत्योर्मामृतं गमय। मंत्र का भ्रम कैसे दूर हो? Mantra ki Shakti.

मंत्र को लेकर समाज में अनेक प्रकार की भ्रांतियां मौजूद है। "जादू टोना के अचूक मंत्र, वशीकरण मंत्र, सिद्धि मंत्र।" ऐसे मंत्रों के अनेक किताब भी मौजूद है। वास्तव में मंत्र क्या है? इस प्रकार के मंत्र कैसे काम करते हैं? मंत्र को कैसे समझें? समाज के अंदर ऐसे अनगिनत सवाल हैं।सनातन साहित्य में ज्योतिष … Continue reading मृत्योर्मामृतं गमय। मंत्र का भ्रम कैसे दूर हो? Mantra ki Shakti.

प्रेम का लड्डू जीवन का तबाह। Pyar mein mein Dhokha.

सनातन सत्य वास्तविकता को बयां करने की कोशिश करता है। एक मानव का उम्र के अनुसार संसार को देखने का नजरिया रोज बदलता है। दुनिया को देखने का बचपन में अलग अंदाज होता है। जवानी में उसे दुनिया अलग दिखता है। बुढ़ापे में दुनिया को वह अलग पाता है। कभी वह जीवन में जिस प्रेम … Continue reading प्रेम का लड्डू जीवन का तबाह। Pyar mein mein Dhokha.

पूर्वज किसके थे? सनातन भारत का दर्द। Sanatan Bharat ke purvaj

मैं भारत हूं। अपने अतीत की बात सुनाता हूं। यहां के पूर्वज किसके थे? देश के पूर्वजों का कसूर क्या था?  क्यों हम उन्हें भूल गए।मैं भारत हूं, मुझे दर्द है अपने अतीत का। आज कुछ लोग अपने पूर्वजों के वास्तविकता को भूल कर इतिहास को बदलने की कोशिश करते हैं।मेरे ऊपर परदेसी आक्रमणकारियों द्वारा … Continue reading पूर्वज किसके थे? सनातन भारत का दर्द। Sanatan Bharat ke purvaj

Watch “मैं भारत हूं! सनातन धर्म।” on YouTube

मैं भारत हूं। जुल्मों सितम एवं अतीत का दर्द सुनाता हूं।‌‌सम्मान और अभिमान को लूट लिया परदेसी आक्रांताओं ने। सनातन सत्य जो बदलने के बाद भी नहीं बदला, वही मैं भारत हूं।अनेकों बार अमानवीय कुकृत्य करने वाले आज किसी का आदर्श हैं। https://youtu.be/yJbQWKVRG3k "जिसकी लाठी उसकी भैंस।" इतिहास बदलने से अथवा अपना वेशभूषा बदलने से … Continue reading Watch “मैं भारत हूं! सनातन धर्म।” on YouTube