भगवान से वास्तविक प्रार्थना। Ishwar se prathna

हिंदू धर्म में स्तुति संग्रह। अपने परमात्मा से प्रार्थना कैसे करें। सनातन धर्म दर्शन। भक्त अपने भगवान से प्रार्थना कैसे करें? परमेश्वर भक्ति में अनेकों प्रकार के क्रियाएं कहा गया है। उन क्रियाओं में सबसे महत्वपूर्ण क्रिया है परमेश्वर से प्रार्थना। प्रार्थना के ऊपर चिंतन करें उससे पहले हम कुछ और चिंतन करें। आप एक … Continue reading भगवान से वास्तविक प्रार्थना। Ishwar se prathna

मानव का सपना चिड़िया बनाना। Manav ka Sapna.

एक चिड़िया और मानव। हिंदू धर्म। तन धर्म। मानव की सोच। मानव कुछ भी कर ले चिड़ियां नहीं बन सकता। एक चिड़िया बैठी डाल पर, काश मैं भी इंसान होती, तुम मुझे यूं बार-बार उड़कर खाना खाने के लिए ना जाना पड़ता। मैं भी अपने घर में बहुत बड़ा खाने का भंडार रखा करती। काश … Continue reading मानव का सपना चिड़िया बनाना। Manav ka Sapna.

ईश्वर की भक्ति क्यों।Bhagwan aur bhagt ka prem

परमेश्वर ने हमें कुछ नहीं दिया, हम परमेश्वर को क्यों याद करें? हिंदू धर्म। सनातन धर्म। क्या भगवान ने कुछ नहीं दिया तो भगवान की भक्ति नहीं करना चाहिए। परमेश्वर ने हमें कुछ नहीं दिया इसलिए हम उस परमेश्वर को क्यों याद करें? ऐसा कहने वाले की भी संख्या कम नहीं है। इस प्रकार कहने … Continue reading ईश्वर की भक्ति क्यों।Bhagwan aur bhagt ka prem

धर्म की परिभाषा। Manav Dharm.

धर्म का परिभाषा क्या है।सबसे महान धर्म कौन सा है? हिंदू धर्म। सनातन धर्म। मानव समाज में धर्म का परिभाषा क्या हो सकता है।समाज में जिस धर्म को धर्म नाम से संज्ञा दिया जाता है वास्तव में वह धर्म नहीं है वह एक समूह विशेष है। सभी समूहों के परमेश्वर के मानने के तरीके अपने-अपने … Continue reading धर्म की परिभाषा। Manav Dharm.

क्या वास्तव में ईश्वर है। Bhagwan kaise dikhai dete Hain.

क्या परमेश्वर वाकई में है, और वह एक ही है? हिंदू धर्म। सनातन धर्म। क्या वास्तविक में परमात्मा है और दिखेगा।क्या वाकई में ईश्वर है? ऐसा क्यों लगता है कि ईश्वर नहीं है। ईश्वर सब उस ईश्वर ने नहीं बनाया, जिसने दुनिया बनाया। संसार को बनाने वाले तथा इसे चलाने वाले को ईश्वर कहा गया … Continue reading क्या वास्तव में ईश्वर है। Bhagwan kaise dikhai dete Hain.

ईश्वर कहां है। Bhagwan kahan rahte hain.

कहां को खोजेंने जाएंगे उस परमेश्वर को ! हिंदू धर्म। सनातन धर्म। भक्तों ने भगवान को कैसे खोजें और कहां खोजें।कहां को खोजेंने जाएंगे उस परमेश्वर को ! कहां रहता है वह! आदिकाल से महापुरुषों ने अनेक प्रकार से अपनी अपनी ताकत लगाई, कोशिश की उस परमात्मा के पास पहुंचने की, बहुत लोग इसमें सफल … Continue reading ईश्वर कहां है। Bhagwan kahan rahte hain.

ईश्वर का वास्तविक रूप। Parmeshwar ka han pahchan.

परमेश्वर का वास्तविक स्वरूप क्या है? हिंदू धर्म दर्शन। सनातन धर्म में परमेश्वर का स्वरूप। हिंदू धर्म में परमात्मा का वास्तविक रूप क्या है?आदिकाल से महापुरुषों ने अनेक प्रकार से अपनी अपनी ताकत लगाई, कोशिश की उस परमात्मा के पास पहुंचने की, बहुत लोग इसमें सफल भी हुए, और अनेक महात्माओं को, अथवा महापुरुषों को … Continue reading ईश्वर का वास्तविक रूप। Parmeshwar ka han pahchan.

देवता और दैत्य‌ एक सिक्के के दो पहलू। Devta aur daitya.

क्या हिंदू धर्म में देवता और दैत्य दोनों एक ही सिक्के के दो पहलू हैं।शास्त्रों के अनुसार, इतिहास के अनुसार, संसार में परमेश्वर ने दुनिया की रचना में प्रथम देवता और दैत्य बनाएं। यह दोनों वास्तविकता में एक सिक्के के दो पहलू। यदि देवता को निकाल दिया जाए तो दैत्य का कोई अस्तित्व नहीं है … Continue reading देवता और दैत्य‌ एक सिक्के के दो पहलू। Devta aur daitya.

जीवन और ब्रह्मांड का रहस्य क्या है।

जीवन और ब्रह्मांड का रहस्य क्या है।व्यक्ति के मन का एक कक्षा होता है ठीक ग्रहों की तरह ,चंद्रमा पृथ्वी का चक्कर लगाता है अन्य ग्रह सूर्य के चक्कर लगाते हैं यह प्रमाणित है कि सभी ग्रहों का अपना एक कक्षा है, बहुत सारे ग्रहों का अपना-अपना चंद्रमा है जो ग्रह के इर्द-गिर्द घूमते रहते … Continue reading जीवन और ब्रह्मांड का रहस्य क्या है।

सुख और दुख सिक्के के दो पहलू। Sukh kaise mile.

क्या वास्तव में सुख का चाहत करना दुख का निमंत्रण है।सुख की चाहत ,दुखों को निमंत्रण है ,कारण सुख-दुख कोई वस्तु नहीं ,जो हमेशा पास रहने वाला है, सुख और दुख एक अनुभूति है l सुख को महसूस करना, दुख को महसूस करना ,और उसमें जीना, दुख जल्दी जाता नहीं और सुख कब निकल जाता … Continue reading सुख और दुख सिक्के के दो पहलू। Sukh kaise mile.

मृत्यु के बाद क्या होता है? Marne ke bad kya.Ekadash Sevak

मृत्यु एक कठिन विषय है। यह एक संत की वाणी है श्री एकादश सेवक जी महाराज। मैंने उनसे मृत्यु के ऊपर चर्चा किया था। उनके द्वारा बताए हुए कुछ अंश यहां प्रस्तुत है। मौत के बाद क्या होता है। संसार में मानव की मृत्यु के बाद क्या होता है? वास्तविकता तो हर समय वास्तविक रहता … Continue reading मृत्यु के बाद क्या होता है? Marne ke bad kya.Ekadash Sevak

श्री राम ही पुरुषोत्तम क्यों है। Ramcharitmanas aur Purushottam.

श्री राम ही पुरुषोत्तम क्यों है। Ramcharitmanas aur Purushottam. शास्त्र कहता है, पुराण कहता है, ऋषि महर्षि कह गए, श्रीमद्भागवत गीता कहतीं हैं। परमेश्वर बिना आकार वाला, उसका कोई रूप नहीं, वो सब में हैं और सब उसमें है। हिंदू धर्म में श्री राम को ही पुरुषोत्तम क्यों कहा जाता है? उन्हें स्त्री है ना … Continue reading श्री राम ही पुरुषोत्तम क्यों है। Ramcharitmanas aur Purushottam.