देवभूमि उत्तराखंड विशेष। उत्तरांचल। हिंदू धर्म का परम पवित्र भूमि। सनातन धर्म में देवभूमि।

हिंदू धर्म का सर्वोत्तम तीर्थ प्रदेश उत्तराखंड।भारत प्राचीन काल से ही तीर्थों के लिए मशहूर रहा है। उसका कारण यहां भारत की संस्कृति। भारत में अनेक धर्म समूह मिलकर बहुत ही आनंद के साथ एक साथ रहते हैं। देवभूमि उत्तराखंड भारत का एक महत्वपूर्ण तीर्थ प्रदेश।

भारत में बहुत ही पवित्र राज्य हैं उत्तराखंड!

उत्तराखंड की पवित्रता का इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारत में उत्तराखंड को देव भूमि कहा जाता है। अर्थात ईश्वर के रहने का स्थान। इसका मूल कारण भी रहा है की देवभूमि उत्तराखंड अनादि काल से ऋषि और महर्षियों के लिए तप: स्थल रहा है।

उत्तराखंड के प्रत्येक जिले में महात्माओं के तप का वर्णन मिलेगा।

हरिद्वार श्री हरि की पैड़ी



भारत में चार महा धाम अनेक मशहूर है।

चार धामों में एक ओडिशा स्टेट श्री जगन्नाथ मंदिर। जो कि समुद्र के किनारे पूरी में स्थित है। दूसरा है रामेश्वरम जो समुंद्र के नजदीक तमिलनाडु स्टेट में स्थित है। तीसरा है सोमनाथ मंदिर जो गुजरात में स्थित हैं। चौथा महा धाम है और वह है देवभूमि में स्थित श्री बद्रीनाथ ।

देवभूमि उत्तराखंड को तीर्थों का नगर कहा जाए तो भी कम होगा।

देवभूमि के शुभारंभ में ही हरिद्वार जो महातीर्थ है वह पड़ता है, हरिद्वार के पास ही ऋषिकेश हैं जो ऋषियों के लिए, संत महात्माओं के लिए बहुत ही उपर्युक्त स्थान है। हरिद्वार और ऋषिकेश वर्ष के हर मौसम में भक्त और श्रद्धालु आते रहते हैं।

हरिद्वार भोलेनाथ



उत्तराखंड भारत के उत्तर में स्थित जो उत्तर पूर्व कोने पर स्थित हैं।

उत्तराखंड राज्य के अंदर अनेक शहर भी है और उसमें बहुत ही नामचीन शहर है। उनमें मुख्य शहर नैनीताल और यहां की राजधानी देहरादून है जो दिल्ली से बहुत ही नजदीक है नैनीताल हर मौसम के लिए मनोरम है। देहरादून के पास ही मसूरी जिसे पहाड़ों की रानी कहा जाता है बहुत ही फेमस है। यह वह जगह है जहां दिल्ली से आने और जाने के लिए अनेक ट्रेन और बसों तथा प्राइवेट गाड़ियों की सुविधाएं उपलब्ध रहता है।


नैनीताल और मसूरी स्नोफॉल के लिए बहुत ही फेमस है और सर्दियों के समय देश-विदेश से पर्यटक यहां आते रहते हैं।

उत्तराखंड विशेषकर धाम के लिए जाना जाता है। हरिद्वार हरि की पैड़ी अर्थात कहते हैं कि हरि के पास जाने का मुख्य द्वार हरिद्वार हीं है। हरिद्वार में पूरे साल रौनक रहता है, हरिद्वार तीर्थ के लिए देश के कोने कोने से व्यक्ति आते हैं साथ में विदेशों से भी भक्त और पर्यटक आते हैं। हरिद्वार के पास ऋषिकेश है जहां राम झूले के नजदीक हजारों की संख्या में विदेशी पर्यटक पूरे साल रहते हैं।

ऋषिकेश अपने आप में बहुत ही खास हैं साथ हीं यहां योग शिक्षा का अनेकों क्लासेस होते रहते हैं।

ऋषिकेश और हरिद्वार में श्री गंगा जी की कल-कल करती ध्वनि सभी को मोहित करता है। देवभूमि का अधिकांश तीर्थ और यात्रा का शुभारंभ ऋषिकेश या हरिद्वार से हीं होता है।

ऋषिकेश राम झूला



उत्तराखंड में महातीर्थ चार धाम है। चार धाम बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री तथा यमुनोत्री।

सनातन साहित्य इन धामों के लिए कहता है कि जिसने इन तिर्थ धामों का दर्शन कर लिया वह अपने सब पापों से मुक्त हो जाता है। चार धाम के दर्शन किए हुए भक्तों को परमेश्वर सद्गति का मार्ग खोल देतें हैं। जिन पर्यटक को प्रकृति से लगाव हैं उनके लिए भी देवभूमि बहुत ही मनोरम स्थान है।

भारत में जिस प्रकार देवभूमि अलग है वैसा ही यहां के वाशिंदे भी हैं।

यहां के व्यक्तियों में दूसरे स्टेट की अपेक्षा मानवता उच्च स्थान में मिलेगा। प्राय: यहां गांव के लोग भी आने वाले आगंतुकों का अनेक प्रकार से स्वागत करते हैं। उत्तराखंड के विषय में कितना भी कहा जाए कम है संक्षेप में कहें तो उत्तराखंड अद्भुत है।

One thought on “सनातन भारत का अतुल्य तिर्थ उत्तराखंड। Mahan tirth devbhumi.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s